बैठे लंड का इलाज

By   January 4, 2018
loading...

एक्सीडेंट की वजह से मेरे जैसे चुद्दकड़ आदमी का लंड खड़ा नहीं हो पाया. अपनी बीवी को चोदने के लिए मैं एक सेक्स डॉक्टर से मिला.. क्या करीने का माल थी वो.. एक शानदार hostpital sex story पढ़िए..

मैं सूरत का रहने वाला हूँ। दोस्तों, मेरी शादी को 7 साल हो चुके थे। मैं अपनी बीबी कल्पना को खूब रात रात भर चोदता रहता था। पर एक रात कोई ११ बजे के करीब मैंने अपने ऑफिस ने लौट रहा था की मेरी कार का एक दूसरी कार से जबरदस्त एक्सीडेंट हो गया। मैं १ साल के लिए कोमा में चला गया और जब मैं ठीक हुआ तो मैं उस रात अपनी बीबी को नही चोद पाया।

मैंने ये बात अपने दोस्तों को बताई तो उन्होंने मुझे किसी सेक्स काउन्स्लर/ स्पेशलिस्ट से मिलने को बोला। फिर मैं सूरत के ही एक मशहूर डॉक्टर से मिलने गया। दोस्तों उसका नाम डॉक्टर सोनिया था।वो एकदम पटाखा, बिलकुल माल की तरह थी। बहुत गोरी थी, अभी वो कुवारी थी। मैंने उसके कमरे में गया तो ac चल रहा था। ठंडी ठंडी हवा मुझे लगी तो बहुत शान्ति मिली। मैंने अंदर घुसा पर्चा लेकर।

 

“जी कहिये!!….. क्या समस्या है???” डॉक्टर बोली

 

“मैं……जी…मैं” मैं कुछ कहना चाहता था पर आवाज साफ़ नही आ रही थी। मैं दिल की बात बोल नही पा रहा था।

 

“अरुण जी….आप मुझसे किसी तरह की शर्म ना करे। आपने वो जुमला तो सुना ही होगा की डॉक्टर और वकील से कुछ नही छुपाना चाहिए!….आप बिना किसी संकोच के अपनी बात कर सकते है!” डॉक्टर सोनिया बड़ी प्यार से बोली। मैंने उनको सारी बात बताई की कैसे मेरा एक्सीडेंट हुआ और कैसे मेरा लंड खड़ा होना बंद हो गया।

 

“अरुण जी, आपका लंड चेक करना पड़ेगा” सोनिया बोली। एक लेडीज डॉक्टर के मुँह से ‘लंड’ शब्द सुनकर मुझे बहुत आश्चर्य हुआ। काफी अच्छा और अजीब भी लगा।

 

“आ जाइये, ….अपने कपड़े निकाल पर इस बेच पर लेट जाइये” सोनिया बोली

 

मुझे पता नही क्यूँ अपने कपड़े निकालने में बहुत झिझक लग रही थी। पर किसी तरह से मैंने अपना कच्छा उतारा और सीधा बेंच पर लेट गया। डॉक्टर सोनिया ने एक सफ़ेद रबर का दस्ताना अपने हाथ में पहन लिया। मेरी बहुत लम्बी लम्बी झाटे थी। खुद को मैं कोस रहा था की मैंने यहाँ आने से पहले झाटे क्यूँ नही बनाई। सोनिया मेरा लंड हाथ से छूने लगी। उसने गहरे गले का सलवार सूट पहन रखा था। वो बहुत गोरी थी, इसलिए उसके दूध भी बेहद सफ़ेद, बड़े बड़े और चिकने थे। जैसे ही वो झुककर मेरा लंड हाथ से छूकर चेक करने लगी, मन हुआ की डॉक्टर को वहीं गिरा कर चोद लूँ। पर दोस्तों, उसको चोदता कैसे। लंड तो मेरा खड़ा ही नही होता था।

loading...

 

कुछ देर तक सोनिया मेरी झाटों में ऊँगली फिराती रही। फिर उसने मेरे लंड को हाथ में पकड़ लिया।

 

“कुछ हुआ आपको …..कुछ महसूस हुआ क्या????’ विधि ने पूछा

 

“जी नही मैडम!” मैंने जवाब दिया

 

उसके बाद उसने मेरे लंड को नीचे गोली से छुआ और प्यार से सहलाने लगी। फिर सोनिया मेरे लंड की एक एक नस चेक करने लगी। पूरी जाच हो गयी।

 

“अरुण जी!! मैंने आपका चेक अप कर लिया है। उस कार एक्सीडेंट में आपके लंड की नसों को काफी नुक्सान पहुचा है। मैं आपको ये दवाइयां लिख रही हूँ। इसे आप १५ दिन खाइए। उसके बाद आकर मुझसे मिलिए और हाँ बीच मे अगर आपका लंड खड़ा हो जाता है तो आप जरुर बीबी को जरुर चोदिएया। इससे ये फायदा होगा की आपके लंड की नसों में खून जाना शुरू हो जाएगा और आप पूरी तरह से ठीक हो जाएंगे” डॉक्टर सोनिया बोली

baithe lund ka ilaaj hospital sex story

डॉक्टर सोनिया

दोस्तों, मैं उनके क्लिनिक से निकल आया। पर पता नही क्यों डॉक्टर सोनिया के दूध मुझे याद आ रहे थे। हे भगवान कास ऐसा हो जाता की इस सोनिया की चूत चोदने को मिल जाती। मैं घर जा रहा था और बार बार उपर वाले से यही दुआ मांग रहा था। दोस्तों, मैंने १० दिन दवाइयां खायी जो काम कर गयी। मैंने ढेर सारी सेक्सी स्टोरी वाली किताबे माँगा ली। सारा दिन उनको पढता रहता तो बार बार सोनिया याद आती। फिर ११ वें दिन मेरा लंड खड़ा हो गया। मैंने अपनी बीबी को आवाज लगाई।

 

“कल्पना!!…. कल्पना!! जल्दी आओ!! देखो मेरा लंड खड़ा हो गया!” मैंने खुशी खुशी कहा। मेरी मस्त जिस्म वाली बीबी कल्पना भागी भागी आई।

 

“अरुण!! चलो तुम मुझे जल्दी से चोदो……उसके बाद तुम्हरे लंड की नसों में और जादा खून जाएगा और तुम पूरी तरफ से ठीक हो जाओगे!” कल्पना बोली। उसके बाद उसने जल्दी जल्दी अपनी नाइटी उतार दी। मेरे सामने पूरी तरह से नंगी होकर वो लेट गयी। पर दोस्तों जैसे ही मैंने लंड उसके मस्त भोसड़े में डालने की कोशिस की, एक बार फिर से मेरा हथियार सुख गया। इससे हम दोनों को काफी निराशा हुई। पर डॉक्टर सोनिया की दवा फायदा तो जरुर कर रही थी। क्यूंकि इससे पहले मैंने जिन डॉक्टर्स की दवा ली थी, सबने मेरे 20-20 हजार रुपए लूट लिए थे पर कोई फायदा नही हुआ था। एक बार भी मेरा लंड खड़ा नही हुआ था। पर डॉक्टर सोनिया बहुत की काबिल डॉक्टर थी। उन्होंने कई ऐसे केस हैंडल किये थे। उनकी दवा खाने से मुझे फायदा हुआ था और अब मेरा लंड हर रात को १० १२ मिनट के लिए खड़ा हो जाता था। मैं १५ दिन बाद फिर से उसके पास गया.

 

“ओह….हेलो अरुण जी???…कैसे है आप?? कोई फायदा हुआ क्या???” सोनिया बहुत प्यार से बोली

 

“हाँ डॉक्टर! फायदा तो है। जहाँ पहले मेरा लंड बिलकुल नही खड़ा होता था वहीँ अब हर रात रोज ९, १० मिनट के खड़ा हो जाता है, पर जब तक मेरी बीबी अपने काम निपटाकर आती है फिर से डाउन हो जाता है” मैंने अपनी समस्या डॉक्टर सोनिया को बतायी।


Hot Sex Kahani


“अरुण जी, आपको रियल थेरेपी की जरूरत है। आपका लंड किसी जहाज की तरह रनवे पर दौड़ता तो है, लेकिन उड़ान नही भर पाता। इसके लिए आप कीसी हसीन औरत का बिलकुल नग्न अवस्था में दर्शन करिये, उसके बाद आपके लंड को किक मिल जाएगी और वो बिलकुल ठीक हो जाएगा” डॉक्टर सोनिया बोली

 

“मैडम, आपसे जादा सुंदर मैंने कीसी लड़की को नही देखा। आप ही मुझे अपने नग्न रूप का दर्शन करा दीजिये!!” मैंने कहा

 

उसके बाद अपनी तारीफ़ सुनकर सोनिया बिलकुल गल गल हो गयी। उसके बाद वो अपने कपड़े निकलने लगी। उसने सबसे पहले अपना डॉक्टर वाला सफ़ेद रंग का कोट निकाल दिया। फिर अपना सलवार सूट भी निकाल दिया। कुछ देर बाद उसने अपनी ब्रा और पेंटी भी निकाल दी और बिलकुल अपने नग्न स्वरुप का दर्शन मुझे कारने लगी। दोस्तों, उस दिन तो चमत्कार हो गया। मेरा लंड पूरा २० मिनट तक खड़ा रहा।

 

“ठीक है अरुण जी!!….आप इसी तरह रोज आकर मेरे नग्न रूप का दर्शन कर लिया करो!! कुछ दिन में तुम्हारा लंड आराम से खड़ा होना शुरू हो जाएगा!” डॉक्टर सोनिया। दुसरे दिन जैसे ही वो नंगी हुई मैंने उसे पकड़ लिया।

 

“मैडम, अगर आप मुझे अपने सुंदर सफ़ेद और चिकने मम्मे पिला दे, तो मैं निशित रूप से ठीक हो जाऊँगा। फिर मैं रोज रात में अपनी बीबी को चोद सकूंगा!” मैंने कहा.

 

“अरुण जी!! देखिये मैं इस तरह के काम अमूमन नही करती हूँ, पर चलिए मैं आपको ठीक करने के लिए ये करुँगी। क्यूंकि एक डॉक्टर का फर्ज है की किसी भी तरह अपने मरीज को ठीक करना” सोनिया बोली.

loading...