हवस की पुजारन – VII

By   November 8, 2016
loading...

मेरा रंडीपना तो बढ़ता ही जा रहा था, आज डिसूजा मुझे स्कूल के बहार से उठा ले गया, पता नहीं अब क्या पहाड़ टूटेगा मेरी चूत पे? मेरी इस slut sex story का अगला पार्ट-

Hindi Sex Story के अन्य पार्ट-

पार्ट 1

पार्ट 2

पार्ट 3

पार्ट 4

पार्ट 5

पार्ट 6

पार्ट 7


अगले दिन से में स्कूल जाने लगी. जब में स्कूल से घर जा रही थी तो मेने देखा के बाहर डिसूज़ा खड़ा था. पर में अपनी कुछ सहेलिओं के साथ थी इसलिए उसने कुछ नही कहा और चुप चाप मेरे पीछे चलता रहा. थोड़ा चलने के बाद मैने सहेलिओं को बहाना बनाया की में स्कूल में किताब भूल गयी और पीछे रह गयी और उनको आगे जाने दिया. अब डिसूज़ा मेरे बगल में आ गया और मुझे खीच के एक पास वाले मकान के पीछे ले गया. मकान पुराना सा और बंजर था और उसमे कोई नही रहता था.

उसने मुझे बाहो में जाकड़ लिया और कहा ‘कैसी हो जानेमन, इतने दिनो से कहा थी, मेरी चुदाई से मज़ा आया ?’

मैने कुछ नही कहा. उसने मेरे बाल खीच लिए जिस से मेरा सर उपर हो गया और वो मेरे गले को चूमने और चाटने लगा. में ‘आआअहह….. सस्स्स्स्स्स्सस्स……. ‘ करके सिसकियारी भर रही थी.

loading...

अब उसने मेरा हाथ पकड़ के मोड़ दिया. में दर्द से ‘आआईयईईई…’ कर के घूम गयी. मेरे घूमने पे उसने मुझे पीछे से पकड़ लिया और अपनी ओर खीच लिया. दोनो हाथ उसके मेरे बूब्स पे थे और वो उनको मसल रहा था. उसने मुझे कस के पकड़ा था और अपना लंड मेरी गांद पे घिस रहा था. मुझे उसका लंड धीरे धीरे खड़ा होते महसूस हो रहा था. दो मिनिट में उसका लंड एक दम खड़ा हो गया था.

वो अपनी जीब निकाल साइड से मेरे गले और गालो को चाट रहा था. मैने अपना सर मोड़ दिया और उसकी बाहर निकली मोटी जीब को अपने होंठो के बीच ले कर चूसने लगी.

डिसूज़ा सोच रहा था की कैसे मैं अब कुछ भी कहे बिना उसके साथ सेक्स करने लगी थी. ऐसी सोलह साल की जवान लड़की, वो भी इतने उचे घराने की. उसने ज़िंदगी में इतनी खूबसूरत लड़की नहीं देखी थी बिल्कुल कटरीना कैफ़ जैसी. और अब वो लड़की वो जब चाहे इस्तेमाल कर सकता था उसे अपने नसीब पे विश्वास नहीं हो रहा था.

डिसूज़ा अब अपना एक हाथ मेरी स्कर्ट के अंदर ले कर मेरी पॅंटी को नीचे उतार ने लगा. उसने मेरी पॅंटी मेरे घुटनो तक उतारी और फिर अपनी उंगलियाँ मेरी चूत पे लगा दी. दूसरे हाथ से उसने अपनी पॅंट का बटन खोल दिया. उसका पॅंट नीचे गिर पड़ा. उसने मेरा स्कर्ट उठा के अपना लंड मेरे गांद पे लगा दिया और रगड़ना शुरू कर दिया. सारे वक़्त में अपने होंठो से उसकी पूरी जीब को चूस रही थी. मुझे बहुत मज़ा आ रहा था.

डिसूज़ा ने अपनी बीच वाली उंगली ले कर मेरी चूत में डाल दी. उसका लंड के मेरी गांद पे महसूस करके मेरे बदन में सनसनी फैल गयी. मैने ब्रा नहीं पहनी थी और डिसूज़ा मेरी शर्ट के उपर से ही मेरा एक निपल अपनी उंगलियो के बीच ले कर उससे मसल्ने लगा. में पागल हो रही थी. उसका गरम विशाल लंड मेरे गांद पे रगड़ रहा था.

में झरने के बहुत करीब आ गयी थी. डिसूज़ा को पता चल गया था और अब उसने और एक उंगली मेरी चूत में डाल दी और अपनी दोनो उंगलियाँ पूरी मेरी चूत में अंदर बाहर करने लगा और साथ ही मेरे निपल को भी ज़ोर से खीचता रहा.

मेरा झरना शुरू हो गया. में अपनी गांद ज़ोर से आगे पीछे करने लगी. मेरा सारे बदन में सनसनी फैल रही थी. में ज़ोर से डिसूज़ा को चूम रही थी और ‘म्*म्म्ममममम……. ……म्*म्म्मममममम………’ की आवाज़े मेरे मूह से निकालते हुए झार रही थी. डिसूज़ा अपने हाथ से मेरा बूब दबा रहा था और अपनी उंगलियो से मेरे निपल मसल के खीच रहा था. दो तीन मिनिट तक में ऐसे ही झरती रही.

आख़िर मेरा झरना ख़तम हुआ.

‘अब मेरी बारी’ ये कह के उसने मुझे उसकी तरफ घूमा दिया और नीचे झुक के मेरी शर्ट के उपर से ही मेरे बूब को मूह में ले के चूसने लगा. एक के बाद दूसरा, वो पागल की तरह मेरे दोनो बूब्स को चूस रहा था. मेरा शर्ट उसके थूक से गीला हो गया था और मेरे बूब्स से चिपक रहा था. गीले शर्ट से मेरे निपल साफ दिखाई दे रहे थे

मैं ज़मीन पे घुटनो तले बैठ गयी. डिसूज़ा का मोटा लंबा लंड मेरे सामने था. उसे देख मेरे मूह में पानी आ गया. मुझे उससे मूह में लेना था पर में डर रही थी कि वो अगर मेरे मूह को पूरे 10 इंच से चोदेगा तो में मर जाउन्गि. मेरे दिमाग़ में एक आइडिया आया. मैने अपना शर्ट निकाल दिया और उसका लंड मेरे दो बूब्स के बीच लगा दिया. डिसूज़ा ने अपना लंड उपर नीचे करना शुरू कर दिया.

‘क्या बूब्स है तेरे मेरी जान आआआआहह’

डिसूज़ा का लंबा लंड मेरे बूब्स के बीच रगड़ रहा था. में उसकी आँखो में आँखें मिला के देख रही थी

‘हाई क्या चिकनी हैं तू मेरी रानी’ मुझे ऐसे गंदी बातें सुन के अच्छा लग रहा था.

डिसूज़ा का गरम लंड मेरे बूब्स के बीच रगड़ रहा था. 10 मिनिट तक वो मेरे बूब्स को ऐसे ही चोद्ता रहा. तभी मैने अपना सर नीचे की ओर मोड़ा और अपना मूह खोल दिया और डिसूज़ा के लंड का उपर का हिस्सा अपने मूह में ले लिया. मेरे बूब्स चोद्ते चोद्ते डिसूज़ा के लंड का उपर का हिस्सा मेरे मूह के अंदर बाहर हो रहा था. मेरा ऐसा करने से डिसूज़ा से रहा नही गया और वो झरने लगा…..

‘हाई तू तो पूरी रांड़ बन गई हैं आआआआहह…. ये ले आआआअहह…’ करके उसने अपना वीर्य निकालने लगा. वो मेरे बूब्स को ज़ोर से दबा रहा था और अपना लंड तेज़ी से उपर नीचे कर रहा था

hawas ki pujaran sexy slut sex story

कमिश्नर के साथ लेस्बियन सेक्स का मज़ा

उसके लंड से इतना वीर्य निकला कि मुझे यकीन नहीं हो रहा था. इतना सारा वीर्य तो मिस्टर शर्मा और वर्मा ने मिलके भी नहीं निकाला था. इतनी तेज़ी से वीर्य निकल रहा था की मुझे पिया नही जा रहा था और मेरे मूह से थोड़ा वीर्य निकल कर मेरे बूब्स पे गिर रहा था. डिसूज़ा चार पाँच मिनिट तक वीर्य निकालता रहा और झरता रहा. मेरे बूब्स भी मेरे मूह से गिरे वीर्य से गीले हो गये थे. आख़िर उसका झरना ख़तम हुआ और उसने अपनी पॅंट चढ़ा ली.

मैं अपने बूब्स और गले से वीर्य सॉफ करने लगी. तब वो बोला ‘सुन ऐश्वर्या का नाम सुना हैं तूने’

‘हां ऐश्वर्या राई का नाम किसने नहीं सुना’

‘तू जानती हैं उसे मर्द नहीं पर लड़कियाँ ज़्यादा पसंद हैं ?’

‘तुम्हे कैसे पता’

‘अरे मेरा तो काम ही ये हैं. मैने उसके लिए कई लड़कियों का इंतज़ाम किया हैं. तूने कभी दूसरी लड़की के साथ सेक्स किया हैं’

‘नहीं’

‘ऐश्वर्या के साथ सेक्स करेगी’

मैने ज़िंदगी मे कभी भी दूसरी लड़की के साथ सेक्स के बारे मे सोचा नही था. पर ऐश्वर्या राई की बात सुन कर मैं सोच में पड़ गयी.