पति के सामने पत्नी से मस्ती

By   March 7, 2018
loading...

हाय फ्रेंड्स, मेरा नाम अंकित है। मैं पिछले कई सालो से जिलोगो का काम कर रहा हूँ। मेरी आर्थिक हालत कुछ अच्छी नही थी इसलिए मुझे ये काम करना पड़ता था। वैसे भी मैं काफी सेक्सी मर्द हूँ। मैं उदैपुर का रहने वाला हूँ और आस पास के इलाके में सेक्सी कपल के साथ उसकी बीबी को चोदकर मजे देने का काम करता हूँ। इसमें मैं अच्छे पैसे कमा लेता हूँ। कोई कोई कपल तो मुझे 20 हजार तक की रकम दे देते है। मैं एक सेक्सी मर्द हूँ और मेरा लौड़ा 9 इंच का है। काफी मोटा और ताकतवर है। पढ़िए मेरी group sexy stories –


 

दोस्तों मैं अपने लौड़े की फोटोज सेक्सी कपल्स को फेसबुक और व्हाट्सअप पर भेजता हूँ तो बहुत सारे रिप्लाई आते है। उन कपल्स को मेरा मोटा लौड़ा बहुत पसंद आता है। उसके बाद फोन पर बात होती है। जब कपल्स मेरा पूरा खर्चा उठाने को तैयार हो जाते है तो ही मैं बस या ट्रेन पकड़कर उनके पास जाता हूँ और उनकी बीबियों को चोदता हूँ। मेरी सर्विस से सारे मर्द बहुत संतुस्ट दिखते है। मैं उनकी बीबियों को रात भर सोने नही देता हूँ। 4 महीने पहले की बात है. मैंने अपने वेबकैम पर ब्रोडकास्ट करके एक कपल से बात की। उनका नाम अजय और कल्पना था। वो लोग भी अजमेर के रहने वाले थे. उन्होंने मुझे अपने लौड़े की नुमाइश वेबकैम पर करने को कहा। जब मैं अपने 9” लंड को फेट फेटकर मुठ मार कर कई मिनटों तक अपने हथियार का प्रदर्शन किया तो दोनों को मैं पसंद आ गया। उसके बाद मैंने भी अजय से उसकी बीबी के दूध और चूत को वेबकैम पर दिखाने को कहा। कल्पना गोरी चिट्टी और काफी नैन नक्स वाली औरत थी। मुझे घूर घूर पर देखे जा रही थी।
फिर कल्पना मेरे सामने न्यूड होने लगी अपने ब्लाउस को खोलने लगी। दोस्तों उसके ब्लाउस से उसके दूध के उभार मुझे दिख गये तो काफी आनन्द आया। क्यूंकि कल्पना का जिस्म काफी सेक्सी था। उसके कबूतर 34” से बड़े ही दिख रहे थे। फिर ब्लाउस को खोलने के बाद अपनी ब्रा भी उतार दी। उसके कबूतर काफी अच्छी कंडीशन में थे। तने और कसे हुए। जरा भी लटके हुए नही थे क्यूंकि मुझे लटके और झूलते दूध वाली औरते पसंद नही है।
“कल्पना जान!! जरा अपने दूध को हाथ से दबाकर तो दिखाओ” मैंने वेबकैम में कहा फिर कल्पना मेरे सामने अपने दूधो को दबा दबाकर अपने जिस्म की नुमाइश करने लगी। मुझे काफी मजा मिला। फिर अजय ने अपने लौड़े को दिखाया तो मुझे हंसी आ गयी क्यूंकि उसका लौड़ा सिर्फ 5” का था। मैं समझ गया की अजय अपनी जवान और खूबसूरत बीबी की चुदने की तडप को अच्छे से पूरा नही कर पा रहा है। तभी उसे मेरी जरूरत है। हमारी बाते शुरू हो गयी और कुछ दिन बाद अजय ने मुझे काल किया
“हाय अंकित!! मेरी डार्लिंग को तुम्हारा लौड़ा बहुत ही पसंद आया है। तुम इसको किसी दिन आकर मेरे ही घर में चोद दो!!” अजय बोला
“मैं इसके पैसे लेता हूँ। फ्री में कुछ नही करता” मैंने कहा “कितने लोगे तुम??” अजय फोन पर बोला
उसके बाद 8 हजार पर डील फिक्स हो गयी। अजय भी अजमेर का रहने वाला था इसलिए मुझे जादा कोई दिक्कत नही हुई उसके घर जाने में। उसके बाद मेरी उसकी बीबी कल्पना से बात होने लगी। उसकी आवाज काफी अच्छी और मीठी थी। फिर तो रोज ही फोन पर बाते होने लगी। कुछ दिन बाद मै अजय के बताये पते पर पहुच गया। उसके घर में प्रवेश कर गया।
“आओ आओ अंकित!! अब तो तुम हम दोनों के ख़ास दोस्त हो भई!!” अजय मुझसे हाथ मिलाते हुए बोला
मैंने भी ख़ुशी ख़ुशी हाथ मिलाया। हमारी बाते शुरू हो गयी। मैंने अजय को बताया की पिछले 5 सालो से जिगोलो का काम कर रहा हूँ। उसके बाद मैं उसकी बीबी कल्पना को देखने लगा। वो लाल टॉप और पजामी में थी और अपने काले बालो को खोले हुए थे। उसके बाल काफी अच्छे थे लम्बे घने और काले। “आओ जान जरा चुम्मा तो दो” मैंने कल्पना से बोला

pati samne chudai group sexy stories

कल्पना के मस्त बूब्स

loading...

“डार्लिंग!! तुम्हारा दिलबर आ गया है। आज अंकित तुमको अपना मोटा लंड खिला देगा। देखो शरमाओ मत और दिल खोलकर अंकित का स्वागत करो” अजय बोला मैंने कल्पना की लाज शर्म को देखा तो खुद ही उसका हाथ पकड़ लिया और अपने पास सोफे पर बिठा लिया। जल्दी से उसके गोरे गाल पर पप्पी ले ली। अभी दोनों के कोई बच्चे नही थे। 1 साल उनकी शादी को हुए थे। कल्पना दूर हटने की कोशिश करने लगी तो मैंने उसके हाथ को पकड़ लिया और जाने नही दिया। कल्पना बिलकुल शुद्ध देसी माल थी। आँखे बड़ी बड़ी और माथे पर बिंदी लगाये थे। उसके गले में बड़ा सा मंगल सूत्र लटक रहा था। आज उसका पति ही उसे गैर मर्द से चुदवाने जा रहा था। लाल टॉप पर ही उसके बड़े बड़े गोल आकार दूध दिख रहे थे। मैंने अजय के सामने ही उसके दूध पर हाथ रख दिया और चूची पर हाथ घुमा दिया।
“हूँ …हूँ …हूँ सामने देखो कुछ नही कह रही है। पर रात को सिर्फ तुम्हारे ही लंड खाने को बात करती है” अजय अपनी बीबी कल्पना की तरफ देखकर बोला
“आज तेरी बीबी की अच्छे से सेवा करूंगा। कोई शिकायत का मौका नही दूंगा” मैंने कहा उसके बाद कल्पना चाय लाने चली गयी। मटक मटक कर बड़ी सी गांड हिला हिलाकर वो किचन की तरफ चली गयी। उसका फिगर 36 30 34 का आराम से था। लंड खड़ा हो गया उसे देखकर। मुझसे पहले भी अजय ने कल्पना को कुछ महीने पहले एक गैर मर्द से चुदवा दिया था। उसे अपनी बीबी को गैर मर्दों से चुदवाते देखने में बड़ा आनन्द आता था। अजय पराये मर्द के साथ थ्रीसम करता था जिसमे दोनों मर्द मिलकर कल्पना को चोदते थे। कुछ देर बाद चाय पी ली, फिर अजय मुझे पास की मॉडल शाप पर ले गया। उसने अच्छी शराब की बड़ी बोतल ली और काफी सेक्सी बाते की। फिर हम दोनों पीकर घर आ गये। कल्पना ने चिकन बना रखा था। तीनो ने रात का डिनर किया। फिर कल्पना रात के 9: 30 तक बेडरूम में नाईट सूट पहनकर आ गयी। अजय मेरे साथ ही थ्रीसम करना चाहता था। धीरे धीरे हम दोनों मर्दों ने अपने अपने कपड़े उतार दिए। फिर कल्पना को अपने पास बिस्तर पर लिटा लिया।
“अंकित!! आज मेरी बीबी को रंडियों की तरह चोद डालो प्लीस!! कोई रहम मत करना” अजय अपना लंड फेटते हुए बोला
मैं बेड के सिराहने टेक लगाकर बैठ गया और कल्पना को अपनी गोद में बिठा लिया। गुलाबी नाईटी में उसका जिस्म काफी सेक्सी दिख रहा था। हाथो में कल्पना ने कंगन और चूड़ियाँ पहन रखे थे और हाथो में महंदी लगा रखी थी। ओंठो पर गुलाबी लिपस्टिक लिप लाइनर के साथ लगाया था और मेकअप करके मेरे पास आई थी। मैंने उसको अपनी गोद में बिठा लिया और गालो पर पप्पी लेने लगा। नाईटी के चिकने कपड़े में वो हॉट माल दिख रही थी। मैंने उसकी गुलाबी नाईटी को पैरो के पास से उपर को उठा दिया तो उसके चिपके सफ़ेद पैर दिख गये।

 


indian sex townhttps://www.facebook.com/mhss.official/


फिर मैंने कल्पना को बेड पर लिटा दिया। उसकी नाईटी को और उपर जांघ तक उठा दिया तो उसकी सेक्सी जांघ चमक गयी। मैं कामुक हो गया और उसके दोनों जांघो को सहलाने लगा दोनों हाथो से। कल्पना स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा करने लगी। मैं झुक गया और उसकी सेक्सी सफ़ेद जांघो पर किस पर किस करने लगा। ऐसे करते करते मैं उपर पहुच गया और उसकी पेंटी दिख गयी। मैंने ही उसकी पेंटी को उतार दिया। कल्पना की नाईटी को उपर किया किया और अब वो मेरे सामने नंगी थी। उसकी चूत मेरे सामने थी।
“देखो मेरी डार्लिंग ने अपनी चूत के बाल अच्छे से साफ कर लिए है अंकित सिर्फ तेरा लौड़ा खाने के लिए” अजय बोला
मैं कुछ देर तक कल्पना की भोसड़ी को देख देखकर मजा लेता रहा। फिर जीभ लगाकर चाटने लगा। जल्दी जल्दी मुंह लगाकर उसकी चूत का रस लेने लगा। जीभ लगा लगाकर चाट रहा था। 5 मिनट में कल्पना को मजा आने लगा। वो “..अहहह्ह्ह्हह स्सीईईईइ….अअअअअ….आहा …हा हा हा सी सी सी ओह्ह” करने लगी। मैं ख़ुशी ख़ुशी चाटने लगा। और दिल खोलकर मैंने अजय की औरत की चूत को उसके सामने काटा। अजय ने वेबकैम निकाला और विडियो बनाने लगा। वो जब जब अपनी औरत को किसी पराये मर्द से चुदवाता था उसका विडियो जरुर बनाता था। मैं तो मस्ती से कल्पना की भरी हुई चूत को पी रहा था। किसी प्यारे कुत्ते की तरह चाट रहा था। जल्दी जल्दी जीभ चला चलाकर चाट और पी रहा था। अजय हम दोनों की फिल्म बना रहा था।
“ओह अंकित!! ….इसस्स्स्स्स्स्स्स्……. तुम बड़े सेक्सी मर्द हो। चाटो बेबी!! और चाटो!!” कल्पना कहने लगी। ये बात सुनकर मैं और चाटने लगा। अजय ने मुझे मोटा 12” का डिलडो लाकर दिया।
“इसे मेरी बीबी की चूत में डाल दे यार” अजय बोला
अब मैंने धीरे धीरे कल्पना की चूत में डिलडो घुसाना शुरू कर दिया। और फिर मोटा तगड़ा डिलडो पूरा उसकी भोसड़ी में घुसा दिया। कल्पना की चूत के ओंठ उघड़ गये। मैंने अंदर बाहर डिलडो चलाना शुरू कर दिया तो कल्पना “……अई…अई….अई……अई….इसस्स्स्स्स्स्स्स्…….उहह्ह्ह्ह…..ओह्ह्ह्हह्ह….” करने लगी। अजय हम दोनों की पिक्चर बना रहा था हैंडीकैम से। मैं मोटे डिलडो को अंदर बाहर करने लगा। खूब मजा लिया मैंने भी। 15 तक तक डिलडो कल्पना की चूत में चलाता रहा। फिर वो झड़ने वाली हो गयी। वो कांपने लगी और जोर जोर से आहे भरने लगी। मैं डिलडो निकाल लिया और अपनी 2 उंगलियाँ उसकी चुद्दी में घुसा दी और जल्दी जल्दी फेटने लगा। कुछ ही देर में कल्पना झड़ने लगी। “….उंह उंह उंह हूँ.. हूँ… हूँ—हमममम” बोलकर उसका झरना फूट पड़ा और किसी दिवाले के अनार की तरह पानी उपर को निकलने लगा। मैंने चूत में ऊँगली करता ही रहा और कुछ सेकंड था काफी पानी किसी फव्वारे की तरह कल्पना की चुद्दी ने निकला तो नीचे की बह गया। क्यूंकि मैंने उसे बेड के किनारे कर दिया था।
ऐसी सेक्सी चूत को देखकर मैं फिर से मोहित हो गया और चूत को फिर से जल्दी जल्दी जीभ लगाकर पीने लगा। चूत के दोनों होंठो को मैंने खूब चूसा और सारा रस पीया। समझ लीजिये की खा गया। “कितनी सेक्सी चूत है अपनी पानी छोड़ती है। वरना अनेक औरतो की चूत में चाहे जितना ऊँगली डिलडो डालो कुछ नही होता” मैंने मन ही मन सोचने लगा। उसके बाद अजय भी आ गया। उसने अपना हैण्डीकैम एक टीवी के पास मेज पर ऑन करके रख दिया और नंगा होकर आ गया। उसने कल्पना के मुंह में अपना लंड दे दिया और चुसाने लगा। “अंकित!! अब चोद मेरी बीबी को!!” अजय बोला
मैंने अपने 9 इंची लौड़े को फेटना शुरू किया। कुछ देर मुठ मारता रहा। फिर लंड की एक एक नश फुल गयी। “नाईटी उतार रंडी!!” मैंने कहा। कल्पना ने अपनी गुलाबी नाईटी उतार दी और पूरी नंगी होकर लेट गयी दोनों टांग को खोलकर। “यार अंकित तू तो असली मर्द है। तेरे सामने तो मुझे अपने छोटे लंड को देखकर शर्म लग रही है” अजय बोला
मैं मुस्कुरा दिया। उसके बाद मैंने अपने लंड को पकड़ा और कल्पना की चूत पर पीटने लगा। कुछ देर तक उसकी कामुक चूत की पिटाई लगाता रहा। फिर लंड को उसके के सेक्सी भूरे भूरे होठो पर रगड़ने और घिसने लगा। बड़ा तड़पाया कल्पना को। वो सोचती की अभी बार लंड घुसा दूंगा पर हर बार मैं उसे टोपी पहना देता। लंड के मोटे टोपे से चूत के भूरे भूरे और गुलाबी होठो को खूब देर तक रगड़ता रहा और कल्पना “आऊ…..आऊ….हमममम अहह्ह्ह्हह…सी सी सी सी..हा हा हा..” करती रही। फिर जादा तड़पाना भी सही नही था। अंत में लंड का टोपा चूत में घुसा सा हाथ से धक्का देकर। गर्म गर्म कल्पना की चुद्दी का अहसास हुआ और थोडा और धकेला तो मेरा 9” लंड उसकी चूत में पूरा घुस गया। कल्पना आहे भरने लगी। मैंने उसकी कमर को पकड़ लिया और पकर पकर चोदने लगा। अजय तो जैसे देखकर ही मस्त हो गया था। हम दोनों ने ड्रिंक भी की थी इसलिए मौसम कुछ जादा ही रंगीन हो गया था।
मैंने तो कुछ पेग ही लिए थे क्यूंकि आज कल्पना को चोदना जो था। मैं अपनी गांड उठा उठाकर चूत में गहराई में जाकर उसे पेल रहा था। कल्पना ने अपनी दोनों टांग किसी रांड की तरह हवा में तान दी। मैं जल्दी जल्दी धक्के देने लगा। उसकी चूत काफी कसी थी। मैं उसकी भूरी रंग की भोसड़ी की तरह देख देखकर धक्के लगा रहा था। जब जब लौड़ा अंदर घुसता था कल्पना “उ उ उ उ उ……अअअअअ आआआआ… सी सी सी सी….. ऊँ—ऊँ…ऊँ….” करने लग जाती थी। इसमें कोई संदेह नही थी उसे चूत में मेरे लौड़े की रगद परम सुख दे रही थी। कल्पना की गर्म गर्म आहे और सिसकियाँ मेरा मनोबल बढ़ा रही थी। फिर अजय ने उसके चेहरे को पकड़कर उसके मुंह में अपना 5” का लौड़ा घुसा दिया और चुसाने लगा। इस तरह से हम तीनो से थ्रीसम वाला काम किया और मैंने कल्पना की चूत 15 मिनट घिसी। फिर लंड निकाल लिया।
“अंकित!! मेरे भाई!! आओ इस कुतिया को अपना लंड चुसाओ तब तक मैं इस बहन की लौड़ी की चूत चोद लूँ” अजय बोला
मैं उठकर कल्पना के चेहरे के तरफ चला गया। अब अजय ने कुछ देर अपनी बीबी की चूत मुंह लगाकर चाटी। मेरे लंड से 4 5 बुँदे चूत में छूट गयी थी। अजय मेरा माल भी चाट गया और अच्छे से अपनी औरत का भोसड़ा चाटने लगा। मैंने कल्पना के मुंह में लौड़ा घुसा दिया और वो मेरे सुपारे को मुंह में लेकर चूसने लगी। “इसे फेटो जान” मैं बोला। कल्पना अपने सीधे हाथ से मेरे लंड को फेटने लगी। मैं अपने घुटनों को मोड़कर उसके पास ही बैठ गया। कुछ देर बाद अंकित मेरे सामने ही अपनी बीबी को चोदने लगा। मैं भी लाइव टेलीकास्ट देख रहा था। लाइव शो का मजा ले रहा था। मैंने कल्पना के दूध को हाथ से गोल गोल सहलाना शुरू किया। वो “ हूँउउउ हूँउउउ हूँउउउ ….ऊँ—ऊँ…ऊँ सी सी सी सी… हा हा हा.. ओ हो हो….” करने लगी। मेरे लंड को मुंह में लेकर चूस भी रही थी। दोस्तों इस तरह से मैंने और अजय ने कल्पना को पूरी रात थ्रीसम करके चोदा। उसे कुतिया बनाया खाया। फिर दोनों मर्दों ने बारी बरी से उसकी गांड मारी।
आपको स्टोरी कैसी लगी मेरे को जरुर बताना

—————– समाप्त —————-

आपको group sexy stories कैसी लगी मेरे को जरुर बताना

और भी hot sex kahani के लिए आते रहिये my hindi sex stories पर

loading...