प्रेमिका से रंडी बनने का सफ़र

By   March 5, 2018
loading...

नीतूदेहरादून के एक गांव में रहती थी। वो जात से ब्राह्मण थी। जब वो 18 साल ही हसीना हुई तो कपिल से उनका प्यार हो गया। कपिल उसी के गांव में ही रहता था। वो बांस की टोकरी, सीढ़ी, अलमारी वगैरह बनाता था। एक दिन उसने नीतूको बॉस के जंगल में बुलाया। वही उसकी सील तोड़ के उसके कुंवारेपन को खत्म किया। पढ़िए मस्त desi sexy kahani –


 

वैसे नीतूखोई खास गोरी नही थी। नाक में सोने की कील और कान में छोटे छोटे टॉप्स पहनती थी। पर रंग काला होने पर भी चेहरे में बड़ी छप थी। चेहरा मोहरा ऐसा था कि कोई जवान लड़का उसे।देख लेता था तो।देखता रह जाता था। इस तरह नीतू बहुत गोरी ना होते हुए भी सुंदर नैन नक्स वाली थी।

उस रात कपिल ने उसे बांस वाले जंगल में बुलाकर जम कर चोदा। नीतूका प्रेम प्रसंग कुल 3 साल चला। एक दिन बात खुल गयी। नीतूके बाप जो गांव के मंदिर के पुजारी थे गड़ासा लेकर नीतूको जान से मारने दौड़े। अब नीतूऔर कपिल के सामने भाग जाने के सिवा कोई रास्ता नही थी। दोनों देहरादून रेलवे स्टेशन आ गए और जो ट्रैन मिली पकड़ ली।

नीतूको अपने प्यार कपिल पर बड़ा विस्वास था। उसने दुनिया से बगावत करके ये कदम उठाया था। वो अपने माँ बाप , गांव रिस्तेदार सब कुछ छोड़ने को तैयार थी पर कपिल को नही। दोनों जिस ट्रैन पर सवार थे वो क्लकत्ता आकर रुकी। दोनों एक इलाके में चले गए। कपिल गांव की और जवान लड़कियों को भी चोदता खाता रहता था। इसके बावजूद भी नीतूने कपिल से प्यार किया था।

वो जानती थी की दुनिया में हर कोई उसे धोका दे सकता है, पर कपिल नही। कलकत्ता में कपिल उसे अपने दोस्त के घर ले गया। ये बड़ी सी बिल्डिंग थी। ऊपर ढेर सारी लड़कियां साडी पहनकर, लिपस्टिक लगाकर खड़ी थी। नीतूको थोड़ा अजीब लगा। जैसे ही वो बिल्डिंग के अंदर गयी, ढेरो मर्द उसे आते जाते दिखाई दिए। कोई पान थूक रहा था, कोई सिगरेट के छल्ले उड़ा रहा था।

कपिल उसे लेकर एक तंग कमरे में पंहुचा। बड़ा गंदा और तंग कमरा था। कहीं कोई खिड़की नही। बस एक पिला बल्ब और एक पंख।
तू थक गयी होगी। यही रुक ! मैं तेरे लिए कुछ खाने को ले आता हूँ! कपिल ने बैग एक ओर रखा और नीतूसे कहा।
भोली भाली नीतूने सर हिला दिया। आधे घण्टे बीत गए पर कपिल नही लौटा। नीतूको थोड़ी चिंता होने लगी।

loading...

आधे घण्टे बाद एक भरी भरकम आदमी ने दरवाजा पीटा। दरवाजा खोलते ही जबरन वो अंदर घुस आया। उसने नीतूको घूरकर ऊपर ने नीचे देखा। फिर दरवाजा बंद कर लिया।
नीतूकुछ समझ पाती इससे पहले उसने उसे जोर का धक्का दिया और तखत पर धकेल दिया। नीतूबिस्तर पर गिर गयी।
मॉल तो अच्छा है!।फ्रेश लगता है!!।वो बंगाली आदमी बोला,

उसने नीतूको कन्धों से पकड़ लिया। नीतूने हरे रंग का सलवार सूट पहन रखा था। उस बंगाली आदमी से दुपट्टा खिंच कर एक ओर फेक दिया। और नीतूके मम्मे दबाने लगा। नीरज ने हाथ पैर चलाना सुरु किया पर उस बंगाली आदमी की पकड़ बहुत मजबूत दी। उसने नीतूको 5 6 छप्पड़ जोर से मारे। नीतूसन्न सी हो गयी। उस बंगाली से एक सेकंड में ही नीतूका नारा तोड़ दिया। 2 मिनट में उसे नन्गा कर दिया और करीब डेढ़ घण्टे तक खूब उसकी चूत मारी।


indian sex town 


 

नीतूके लिए ये सब बलात्कर था। वो सदमे में आ गयी और बेहोश हो गयी। नीतूकी घण्टो चोदने के बाद उन बंगाली ने अपने कपड़े पहन लिए , बाहर निकला और बाहर ने खुंडी लगा दी। अगले दिन नीतूको होश आया। वो जागी तो देखा की वो बिलकुल नंगी थी। उसकी चिकनी चूत में अभी भी दर्द हो रहा था। फिर उसे वो आदमी याद आया। नीतूजोर जोर से रोने लगी।
कोई है? दरवाजा खोलो! मुझसे घर जाना है!! मुझसे घर जाना है!! नीरज दरवाजा पीटने लगी।

premika randi safar desi sexy kahani

मेरा मस्त बदन

काफी।देर बाद एक औरत जो की पान चबा रही थी और बड़ी बदसूरत थी वहां आयी और दरवाजा खोला।
कपिल कहाँ है?? मुझे कपिल से मिलना है!  नीतूचिल्लाने लगी। वो फुट फुटकर रोने लगी।
हाय हाय छोकरी! तेरा आशिक़ तुझे बेच गया! ये कोठा है कोठा! यहाँ तो जिस्म की नीलामी होती है। तेरा आशिक़ तुझे पुरे 2 लाख में बेच गया!  उस औरत ने कहा। नीतूके पैरों तले जमीन खिसक गई। बाप रे! इतना बड़ा धोका। जिसके लिए उसने सारी दुनिया छोड़ी उसने उसे कोठे पर बेच दिया।

कुछ देर के लिए तो नीतूजैसे कोमा में चली गयी। उसे गहरा सदमा लगा। एक बार फिर से वो बेहोश हो गयी। रन्दीखाने की मालकिन उस औरत से डॉक्टर को बुलवाया। 8 घण्टों बाद नीतूको होश आया। उसे गहरा सदमा लगा था। वो सोचने लगी की अगर उसके पास जहर होता तो अभी खा लेती। 5 6 दिन में वो नार्मल हो पाई।
देख।छोकरी! मैंने तुझे पुरे 2 लाख में खरीदा था। इसलिए जब तक मैं तुझसे 8 10 लाख नही कमा लेती तू यहाँ से नही जा सकती!  रन्दीखाने की मालकिन बोली

कल से तुझे धंधा करना है!! तैयार हो जा!!  मालकिन चिल्लकर बोली
कहीं नीरज भाग ना जाए इसलिए उसे हमेशा कमरे में बंद कर दिया जाता था। वो बहुत रोइ चिल्लाई पर उसे मौत ना आई। जो खाना बाकी रंडियों को मिलता था उसे भी दिया जाता। आखिर वो दिन आ गया जब उसे धंधा करना था। मालकिन ने अपनी खास रंडियों को जो बाकी रंडियों को सुपरवाइज करती थी नीतूके पास भेजा। और जबर्दस्ती उसे साड़ी पहनकर चटक लाल लिपस्टिक लगा दी।

जैसे की शाम के 6 बजे कस्टमर रंडिया चोदने आने लगे। सुपरवाइजर रंडियों ने नीतूको बाहर लाइन में खड़ा कर दिया। सारे कस्टमर 10  12 रंडियों में से लड़की पसंद करते थे, कॉउंटर पर पैसा जमा करते थे फिर अंदर कमरे में जाकर चोदते थे। चुदाई का दाम था 200, सूंदर लड़की का 300
अरे देख नया मॉल आया है!! एकदम कड़क मॉल है!!  नीतूनाम है इसका!  मालकिन से एक कस्टमर को नीतूको दिखाया। कस्टमर को वो एक ही नजर।में पसंद आ गयी।

उसने पैसा काउंटर पर जमा कर।दिया। नीतूको।लेकर कमरे में जाने लगा। नीतूविरोध् करने लगी। तुरंत मालकिन है और उसने 4 5 छप्पड़ बिजली की रफ्तार से जड़ दिए।
तुझे मैंने प्यार से समझाया ना! तुझको 2 लाख में ख़रीदा है! अब जब तक मैं तुझसे 8 10 लाख नही कमा लेती , तुझे।धंधा करना पड़ेगा!  मालकिन ऊँगली उठाकर आँख दिखाकर बोली। कस्टमर नीतूको कमरे में ले गया।

उसे नन्गा किया , कंडोम पहना और खूब पेला नीतूको। नीतूरोटी रही और कस्टमर उसे चोदता रहा। 20 मिनट बाद उसे फिरसे लाइन में दिखाने के लिए सुपरवाइजर रंडियों ने खड़ा कर दिया। एक कस्टमर ने फिर उसे पसंद किया। फिर वो अंदर आयी और फिर कस्टमर ने उसे जमकर।चोदा। सायद वो दिन नीतूकी जिंदगी का सबसे बुरा दिन था। 20 कस्टमर के साथ नीतूबैठी थी। रंडीबाजी में एक रंडी जितने कस्टमर से चुदवाती है उसे कहते है वो उतने कस्टमर के साथ बैठी।

मालकिन ने नीतूसे आज 5 हजार से ज्यादा कमाये। कुछ कस्टमर 200 पर राजी हुए कुछ 300 पर। रात के 2 बजे चकलाघर बन्द हुआ। सभी रंडियों ने खाना खाया पर नीतूने एक निवाला भी ना तोडा। उसे अपनी फूटी किस्मत पर यकीन नही हो रहा था। ये सब बुरी घटना किसी बुरे सपने से कम ना थी। कहाँ नीतूकपिल के साथ शादी करके सुखद जीवन की कामना कर रही थी और कहाँ आज वो 20 20 कस्टमर से रोजाना चुदती थी।

loading...